Religion
Satish27 Nov, 2018

देवों के देव महादेव के नहीं हैं माता-पिता, रोचक हैं भगवान शिव से जुड़ी ये बातें

क्या आपको ये बात पता थी?

हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार तीन देव सबसे उच्च माने जाते हैं। पहले ब्रह्मा, दूसरे विष्णु और तीसरे महेश। महेश यानी भोलेनाथ या भगवान शंकर। प्रकृति के संतुलन के लिए जीवन और मृत्यु के बीच संतुलन बैठाना पड़ता है, जिसका निर्वहन भगवान शंकर करते हैं।

भोलेनाथ के बारे में कहा जाता है कि जब देवों और असुरों के द्वारा किये गए समुद्र मंथन के दौरान विष निकला, तब न तो देवगण और न ही राक्षसों की सेना ने विष पीने की जहमत की। आखिर में भगवान शंकर आगे आए और उन्होंने पूरा विष पी लिया। इस वजह से उनका कंठ नीला पड़ गया और उन्हें नीलकंठ कहा जाने लगा।

शिव जी से जुड़े कुछ ऐसे तथ्य हैं, जिनके बारे में आपको जरूर जानना चाहिए। अगर आप आस्तिक हैं तो इसे श्रद्धापूर्वक पढ़ें और अगर नास्तिक हैं तो जानकारी समझ कर पढ़ें। तो आइये मेरे साथ इस पौराणिक मान्यताओं के सफर पर और जानिए भोले भंडारी से जुड़ी कुछ अनोखी बातें।