• Home
  • लाइफ़
  • लाइफ़
  • 'ढिंचक पूजा' को पीछे छोड़ हर तरफ छाया 'रैप के बाप' का जादू

'ढिंचक पूजा' को पीछे छोड़ हर तरफ छाया 'रैप के बाप' का जादू

यहां-वहां हर जगह मिल जाएंगे ओम प्रकाश के दीवाने।

Advertisement

हमारे पुराणों में कलयुग को बड़ा ही बुरा समय बताया गया है। इसमें कहा गया है कि जैसे-जैसे समय बीतता जाएगा, हालात बद से बदतर होते जाएंगे। यकीन मानिये इसका असर दिखना शुरू हो गया है। अब आप ही बताइए सोशल मीडिया पर 'बोल न आंटी आऊं क्या?' और 'सेल्फी मैंने ले ली आज' जैसे गानों का बढ़ता वर्चस्व 'घोर कलयुग' नहीं है तो फिर क्या है? 

एक वो सिंगर होता है जो सुबह जल्दी उठता है। आवाज बेहतर बनाने के लिए दिनभर मुलेठी चबाता है। मोहम्मद रफ़ी और किशोर कुमार के गाने सुनता है। घंटों रियाज करता है। रियलिटी शोज में जाने के सपने देखता है। कभी-कभी दुनिया को अपना टैलेंट दिखाने के लिए कराओके के साथ अपना गाना रिकॉर्ड कर YouTube पर भी अपलोड करता है। इस उम्मीद के साथ कि वो भी इंटरनेट पर छा जाएगा। 

हालांकि उसे मिलते हैं मुश्किल से 200-300 व्यूज। इनमें भी अधिकांश उसके दोस्त और कजिन्स ही शामिल होते हैं। दूसरी तरफ एक वो सिंगर होता है जो पहले गाने से ही इंटरनेट पर छा जाता है। जैसे कि ओम प्रकाश। खबर है कि इसके लिए मुंबई में 10 हजार से ज्यादा लोग इकट्ठा होंगे। और तो और वो 'बोल न आंटी आऊं क्या' चिल्लाएंगे। 

तो फिर देर किस बात की है। आइये जानते हैं कि आखिर क्यों जमा हो रहे हैं मुंबई में इतने सारे लोग और कैसे बना ओम प्रकाश 'रैप का बाप'?

Advertisement