फर्श बनाने के लिए कम पड़ रहे थे पैसे, जुगाड़ू ने सिक्कों से कर दिखाया ऐसा कमाल

आपका दिल जीत लेगा यह जुगाड़।

एक बात तो पक्की है दोस्तों! जब जिंदगी में कुछ और काम नहीं आता, तब जुगाड़ काम आता है। क्यों सही कहा ना मैंने? 

अभी तो बारिश का मौसम भी चल रहा है तो लोग लपक के जुगाड़ करने में लगे हैं। रास्ते में निकलो तो जिनके पास रेनकोट नहीं होता वो पॉलिथीन से ही काम चला लेते हैं। और तो और कई बार गाड़ी में पीछे बैठा व्यक्ति ही आगे वाले के सिर पर छाता लगाकर रखता है। 

अमूमन जब कम खर्चे में कोई काम करना हो तब जुगाड़ का इस्तेमाल किया जाता है। आज हम आपको ऐसे ही एक जुगाड़ की कहानी सुनाने वाले हैं। इस व्यक्ति ने अपना दिमाग लगाकर घर की फर्श को इतना खूबसूरत बना लिया कि देखने पर लगता है जैसे इसपर लाखों रुपये खर्च किए गए हों। 

चलिए अब बात को ज्यादा न घुमाते हुए जानते हैं पूरा मामला।