अगर बदल दिया जाए इन बॉलीवुड गानों का मतलब, तो कुछ ऐसी बात होगी

क्या सच में, 'बस इतना सा ख्वाब है'। 

Advertisement

बॉलीवुड गाने तो हम सभी की जान है। और फिर हमारे पास हर सिचुएशन के लिए गाने होते हैं। दिल टूट गया तो बॉलीवुड गाने सुन लो। दोस्त से झगड़ा हो जाए या रूठी गर्लफ्रेंड को मनाना हो। बस एक बॉलीवुड गाना बजाओ और सब ठीक हो जाता है। इन गानों के मतलब ही इतने अच्छे होते हैं। बस सीधे दिल पर लगते हैं। खासतौर पर तो पुराने 90's के गाने वो तो सच में एवरग्रीन हैं। उन गानों का तो कोई तोड़ ही नहीं है। लेकिन अगर इन बॉलीवुड गानों का मतलब बदल दिया जाए तो। 

वैसे भी फिल्मों में गाने लिखे जाते हैं किसी सिचुएशन को हाईलाइट करने के लिए। लिखने वालों की यह मजबूरी होती है कि उन्हें गानों को राइम करना पड़ता है, जिसकी वजह से सही शब्द बदलने पड़ते हैं। अगर गाने की एक ही पंक्ति सुनी जाए या अगर गाने को सिनेमा के साथ न सुना जाए तो उसका मनोरंजक अर्थ निकाला जा सकता है। 

यकीन ना हो तो लीजिए एक नमूना देखिए। 

Advertisement