53 साल पहले तबाह हो चुके इस शहर का नाम 'रामायण' से जुड़ा है, जानिए पूरी घटना

भारत के दक्षिणी छोर पर स्थित है धनुषकोड़ी। 

हम जिस शहर में रहते हैं, उससे हमें अलग ही लगाव होता है। जब कोई हमसे हमारे शहर की खासियतें पूछता है तो हम सिर्फ उसके वर्तमान की नहीं बल्कि भूतकाल से जुड़ी बेहतरीन बातें भी बताते हैं। हमारे देश भारत का जिक्र करते हुए भी हम कहते हैं कि भारत पहले 'सोने की चिड़िया' हुआ करता था। 

हर शहर और कस्बे के इतिहास में कई रोचक कहानियां छुपी होती हैं। कुछ शहरों का जिक्र तो रामायण-महाभारत के काल में भी मिलता है। ऐसा ही एक शहर दक्षिण भारत में बसा 'धनुषकोड़ी' है। 'धनुषकोड़ी' का जिक्र भगवान राम के समय से मिलता है। कई सालों तक यह शहर आबाद भी था। लेकिन कुछ साल पहले अचानक से आए एक तूफान ने इसे तबाह कर दिया। कभी पर्यटकों के बीच मशहूर रहे शहर में आज सन्नाटा पसरा है। 

आखिर क्या है इस शहर की कहानी और भगवान राम का इससे क्या नाता है? यह हम जानेंगे इस स्टोरी के जरिए।