लाइफ़
Vishal Dubey 26 Sep, 2018 11:25 68403 25
  • Home
  • लाइफ़
  • लाइफ़
  •  लेफ्टी लोगों की इन परेशानियों को देखकर आप भी बोल पड़ेंगे, 'बहुत नाइंसाफी है'

 लेफ्टी लोगों की इन परेशानियों को देखकर आप भी बोल पड़ेंगे, 'बहुत नाइंसाफी है'

बड़ी परेशानी है रे बाबा, बड़ी परेशानी है!

दुनिया भर में 90 प्रतिशत आबादी दाहिने हाथ का इस्तेमाल करने वालों, मतलब राइटी लोगों की है। जबकि बची हुई 10 प्रतिशत जनता लेफ्टी है। इसलिए दुनिया भर में बन रही इस्तेमाल की चीजें केवल राइटी लोगों को ध्यान में रखकर बनाई जाती हैं। इन सभी वस्तुओं का इस्तेमाल करने में खब्बे हाथ वालों को भारी परेशानी उठानी पड़ती है। इन समस्याओं का अंदाजा दुनिया भर के 90 प्रतिशत लोगों को नहीं है। लेकिन इतिहास की ओर नजर मारने पर पता चलता है कि बाएं हाथ का इस्तेमाल करने वाले लोगों की मुठ्ठी भर भीड़ ने दुनिया को ढेरों महान लोग दिए हैं।

विश्व के सबसे प्रतिभावान व्यक्ति लेओनार्दो दा विंची, महान दार्शनिक अरस्तु, जुलियस सीजर, बिल गेट्स, महान वैज्ञानिक आइन्स्टीन और ओबामा जैसी ढेरों शख्सियत लेफ्टी थे या हैं। समाज में देखें तो खब्बे हाथ वालों को कमजोर और मनहूस तक समझा जाता है। उन्हें कई तरीके के तिरस्कार भी झेलने पड़ते हैं।

आइए इन तस्वीरों के माध्यम से देखते और समझते हैं लेफ्टी लोगों का दर्द।