news-digest
Ambar06 Jan, 2017

युवक ने 3 साल से छिपा कर रखी थी, अपनी पत्नी की लाश फ्रिज में

रिश्तेदारों को फ़ोन कर, खुद अपना गुनाह कुबूल किया। 

अक्सर ये सुनने में मिल जाता है कि अपराधी का चेहरा एक न एक दिन बेनक़ाब हो ही जाता है। लेकिन इस किस्से में जब तक अपराधी ने खुद अपना गुनाह क़ुबूल नहीं किया हो तो किसी को कानों कान खबर नहीं लगती।

हम बात कर रहे हैं गिरीश पोते की, जिसने 2013 में अपनी बीवी मधुवंती पाठक का मर्डर किया। और उसकी लाश को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर फ्रिज में छिपा कर रखा। ये वाक़या तब सामने आया, जब उसने अपने रिश्तेदारों को फ़ोन कर, अपना गुनाह कुबूल किया। इसके बाद रिश्तेदारों ने पुलिस को सूचित कर घटना की जानकारी दी।