न्यूज़ Digest
Satish 02 Feb, 2019 06:26 73136 25

बजट 2019 लेखा-जोखा : "का हो भैया, बजट बड़ा दुखदाई बा का?"

कमरतोड़ महँगाई बा।

"का हो भैया, बजट बड़ा दुखदाई बा? हाँ हो भैया, कमरतोड़ महँगाई बा।
आई-गई कितनी सरकारें, सबने ही सहलाई है, जोर चपत लगवाई है।
चाहे पंसारी, हलवाई, सब पर आफत आई है, वादें लोकलुभावन करतें
मगर धरातल खाई है, धन्ना सेठन की जेबन को, मुई सभी भरने आई।
ई बजट बहुत हरजाई बा, मानुष के मुँह में राई बा।"

- सतीश कुमार