अब होगी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की डिग्री की जांच 

सीपीआईओ ने इस मामले में जताई असमर्थता। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार केंद्रीय सूचना आयोग ने दिल्ली विश्वविद्यालय से वर्ष 1978 में बी.ए. की डिग्री हासिल करने वाले सभी विद्यार्थियों के रिकॉर्ड की जांच करने के आदेश जारी किये हैं।

विश्वविद्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार इसी साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी बी.ए. परीक्षा उत्तीर्ण की थी। आयोग ने विश्वविद्यालय के केंद्रीय जन सूचना अधिकारी की इस दलील को खारिज कर दिया है कि, यह तीसरे पक्ष की व्यक्तिगत सूचना है। आयोग के अनुसार इस दलील में कोई कानूनी पक्ष नजर नहीं आता है।