news-digest
Ambar07 Jan, 2017

बेटी का शव कंधे पर रख, 15 किलोमीटर चला गरीब पिता 

सामने आई इंसानियत को शर्मशार कर देने वाली घटना। 

ओड़िशा के अंगुल जिले में रहने वाला 'गति ढीबर' यह उम्मीद लेकर शहर आया था कि बीमारी से जूझ रही उसकी बच्ची को बेहतर इलाज मिल पाएगा। उसकी सारी उम्मीदें शहर आ कर धूमिल हो गई, क्योंकि वो उसे बचा नहीं सका। शहर में इलाज का खर्च इतना ज्यादा था कि सारी जमापूंजी गंवाने के बाद, उसके पास इतने पैसे भी नहीं बचे थे कि वो घर वापस जाने का किराया दे सके। ये शख्स अपनी पत्नी और दूसरे बच्चे के साथ बेटी का शव उठाकर,  पैदल ही अपने गांव का 15 किलोमीटर का सफर तय करने निकल पड़ा।