सुरेश रैना बुरी तरह घिर गए थे अवसाद से, कर लिया था आत्महत्या का विचार 

बड़ी मुश्किल से आए सदमे से बाहर। 

भारतीय क्रिकेट टीम के बाएं हाथ के विस्फोटक बल्लेबाज 'सुरेश रैना' टीम के सबसे प्रतिभाशाली खिलाड़ियों में से एक हैं। 2011 के वर्ल्डकप विजेता टीम का हिस्सा रहे रैना, दुनिया के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक माने जाते हैं। इतना ही नहीं, रैना कई मैचों में गेंदबाजी में भी हाथ आज़मा चुके हैं। 

भारतीय टीम के रैना आज एक अलग मुकाम पर पहुंच चुके हैं, लेकिन एक वक़्त था, जब वे इतने ज्यादा डिप्रेस्ड हो गए थे कि उन्होनें आत्महत्या का भी मन बना लिया था। लेकिन उन्होनें इस मुश्किल स्थिति का बहादुरी से सामना किया और खुद को इससे बाहर निकाल लिया।  

सुरेश रैना के साथ ऐसा क्या हुआ था, आइये जानते हैं।