लाइफ़
Satish 15 Feb, 2019 10:39 73403 21
  • Home
  • लाइफ़
  • लाइफ़
  • कभी लगे पाद तो उसे रोके नहीं, जानिए पादने से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

कभी लगे पाद तो उसे रोके नहीं, जानिए पादने से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

शायद आपको अब तक ये नहीं मालूम होगा।

पादना एक ऐसी क्रिया है जिसके द्वारा हमारे शरीर के अंदर की गंदगी गैस के रूप में बाहर आती है। जिस तरह मॉल-मूत्र त्यागना निहायत जरूरी होता है। उसी तरह पादना भी एक नैसर्गिक क्रिया है। इसे करते वक्त हिचकिचाना नहीं चाहिए। कई लोग आपको ये कहते हुए सुने जाएंगे कि 'कैसा बेशर्म इंसान है, हमेशा पादते रहता है।' तो इसपर हँसने की कोई जरूरत नहीं है। उस इंसान की मूर्खता पर भले आप हँस सकते हैं, जो पादने को बुरा समझता है और उस वजह से लोगों का मजाक बनाता है। क्योंकि उस भले इंसान को ये नहीं मालूम कि पादने के कितने फायदे हैं।

जरा सोचिये कि कोई आपसे ये कहे कि आप शौच न करें, जब पेशाब लगे तो उसे नहीं निकाले तो आपका क्या जवाब होगा? अरे भाई, यही न कि ऐसा कैसे संभव है। ये दोनों तो निहायत जरूरी क्रिया है, जिसे चाहकर भी नहीं रोका जा सकता। तो मियां, बात तो आपकी बिलकुल सही है मगर अधूरी बात है। अधूरी इसलिए कि पादना भी उन्हीं क्रियाओं में शामिल है, जिन्हें रोका नहीं जा सकता है।

तो बंधु, अगली बार पाद आए तो रोकने का नहीं। हाँ, इस बात का ख्याल रखा जा सकता है कि अगर आप पब्लिक प्लेस पर हैं तो मर्यादतन भीड़ से अलग जाकर पाद सकते हैं। इससे मर्यादा के नाम पर नाक-भौं सिकोड़ने वालों की बात भी रह जाएगी।
वैसे पादने से जुड़ी कुछ रोचक बातें भी हैं। आइये, आज हम आपको उन तथ्यों के बारे में बताते हैं।