अलग सोच के बलबूते पर इन तीन युवकों ने बनाई अपनी अलग पहचान, गौमूत्र से बिजली बना कर फैला रहे हैं रोशनी

RDS के नाम से मशहूर हैं ये तीनों युवक।

"कौन कहता है आसमां में छेद नहीं हो सकता, एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारों।”

कहते हैं कि अगर आपकी सोच सबसे अलग हो, आपमें कुछ कर गुज़रने का जज़्बा हो, तो आपको आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता। और इस बात को सच कर दिखाया है राजस्थान के अलवर जिले स्थित बहरोड़ के रहने वाले तीन युवकों ने। इनकी सोच और इनका जोश दोनों ही काबिले तारीफ हैं। अपने हुनर और हौसले के दम पर इन तीनों ने एक ऐसी खोज की जो वाकई काबिल-ए-तारीफ़ है। आइए आपको बताते हैं कि इनकी अद्भुत खोज के बारे में।