न्यूज़ Digest
Vishal Dubey 24 Dec, 2018 11:22 72369 15

इंडोनेशिया आखिर क्यों झेल रहा है प्रकृति की मार

रॉक बैंड के सुरूर में थिरकती भीड़ को निगल गया सुनामी का तांडव। 

बात लगभग 3 महीने पहले की है। इंडोनेशिया में 7.5 तीव्रता का भूकंप आया था और उसके साथ उठी थी सुनामी। उस दौरान लगभग 2000 लोगों की मौत हो गई थी। इसके और पहले नजर मारें तो इंडोनेशिया ने हर साल ऐसे ढेरों भूकंप, ज्वालामुखी धमाकों और सुनामियों का सामना किया है। हर बार मौत का मंजर, बिखरती जिंदगानियां, पीछे छूटते रिश्ते और पलायन। केवल 2018 की बात करें तो अब तक तीन बार आई इन आपदाओं ने इंडोनेशिया में 3000 से ज्यादा जानें निगल लीं। हाल ही में सुनामी ने इंडोनेशिया को फिर से झकझोर कर रख दिया है। बताया जा रहा है कि इस बार तो आपदा ने पहले सचेत भी नहीं किया था।

सवाल ये उठता है कि आखिर इंडोनेशिया में ऐसा हो क्यों रहा है? एक ही देश को बार-बार प्रकृति के रौद्र रूप के दर्शन क्यों हो रहे हैं।